Friday, December 04, 2020
Follow us on
 
BREAKING NEWS
मनीमाजरा पुलिस ने करोना जागरूकता के लिए की मार्किट एसोसिएशन के साथ मीटिंग पंचकूला की मार्किटों से दुकानों के बाहर बरामदों मे से सभी प्रकार के अतिक्रमण हटाने को लिखा गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार की लूट के मामले में आरोपियो को क्राईम ब्रांच पचंकूला ने किया काबूलोगों को स्वच्छता रखने की दिलाई गई शपथ हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र हुड्डा ने पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल के भाई की श्रद्धांजलि सभा में पहुंच पुष्पांजलि अर्पित की कृषि मंत्री की बजाए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह को किसान नेताओं से बातचीत करके समस्या का तुरंत हल करना चाहिए - राहुल गर्ग पचकूला में 20 की 20 सीटों पर जीत हांसिल कर एक नया इतिहास बनायेंगे : कैप्टन अभिमन्यु भगवान श्री विश्वकर्मा नमन समारोह का आयोजन
 
 
 
Sports

पंड्या-राहुल के 'भविष्य' पर फैसले में होगी देरी, जानिए क्या है वजह

January 17, 2019 09:26 PM

उच्चतम न्यायालय ने प्रशासकों की समिति (CoA) के उस अनुरोध पर बृहस्पतिवार को संज्ञान लिया, जिसमें उसने महिला विरोधी टिप्पणियां करने वाले टीम इंडिया के सदस्यों हार्दिक पंड्या और केएल राहुल के बारे में फैसला लेने के लिए तुरंत लोकपाल की नियुक्ति की मांग की थी. न्यायमूर्ति एसए बोबडे और एएम सप्रे की पीठ ने कहा कि वह मामले की सुनवाई तब करेंगे, जब वरिष्ठ अधिवक्ता पीएस नरसिम्हा मामले में न्यायमित्र के रूप में पद संभाल लेंगे.

उच्चतम न्यायालय ने नरसिम्हा को न्यायमित्र नियुक्त किया, जब वरिष्ठ अधिवक्ता गोपाल सुब्रह्मण्यम ने मामले में न्यायमित्र बनने के लिए दी गई सहमति वापस ले ली थी. सीओए की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता पराग त्रिपाठी ने कहा कि न्यायालय को लोकपाल की सीधे नियुक्ति करनी चाहिए, क्योंकि इन दोनों प्रतिभाशाली युवा क्रिकेटरों के भविष्य पर तुरंत फैसला लेना है.

इस तरह उच्चतम न्यायालय ने बीसीसीआई के सभी मामलों की सुनवाई एक हफ्ते के लिए स्थगित कर दी है, जिससे महिला विरोधी टिप्पणी करने पर निलंबित भारतीय क्रिकेटर हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल का इस मामले पर फैसले का इंतजार बढ़ गया है.

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को पीटीआई से कहा, ‘अब उच्चतम न्यायालय ने इस मामले का संज्ञान लिया है और पहले ही न्यायमित्र के एक हफ्ते के बाद पद संभालने की बात कही है तो सीओए प्रमुख तदर्थ लोकपाल नियुक्त नहीं कर सकता क्योंकि यह अदालत की अवमानना होगी.’

पीठ ने वरिष्ठ अधिवक्ता पीएस नरसिम्हा को मामले में न्यायमित्र के रूप में रखा है और स्थायी या तदर्थ लोकपाल की नियुक्ति तभी हो सकती है, जब न्यायमित्र पद संभाल लेंगे.

यह पूछने पर कि अब क्या रास्ता होगा, तो अधिकारी ने कहा, ‘तदर्थ लोकपाल की नियुक्ति अब भी हो सकती है, लेकिन ऐसा तभी होगा जब पूर्व अतिरिक्त सोलिसिटर जनरल (पीएस नरसिम्हा) पद संभाल लेंगे और वह इस बात को मान जाएं कि तदर्थ लोकपाल इस फैसले के जल्दी खत्म होने के लिए जरूरी है, ताकि क्रिकेटर अपनी राष्ट्रीय सेवाएं शुरू कर सकें.’

पंड्या-राहुल पर बोले गांगुली- हम मशीन नहीं कि हमेशा परफेक्ट रहेंगे

राहुल और पंड्या ने ‘कॉफी विद करण’ में महिला विरोधी बयानबाजी करते हुए कहा था कि उनके कई महिलाओं से संबंध हैं और उनके माता- पिता को इस पर ऐतराज नहीं है. उधर, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने इन दोनों से सहानुभूति जताई है. उन्होंने विवादों में फंसे पांड्या- राहुल का बचाव किया है. गांगुली ने कहा कि ‘हमें आगे बढ़ जाना चाहिए’ क्योंकि उन्हें भरोसा है कि ये दोनों इससे सीख लेंगे और बेहतर इंसान बनेंगे.

ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद हरफनमौला खिलाड़ी पंड्या घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं और न ही किसी का फोन उठा रहे हैं. उन्होंने सोशल मीडिया का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है. हार्दिक मकर संक्रांति भी नहीं मनाई, हार्दिक का परिवार बड़ौदा से है और गुजरात में यह त्योहार बेहद खास है.

Have something to say? Post your comment
More Sports News
बीसीसीआई सचिव जय शाह ने किया न्यू चंडीगढ़ में पीसीए के न्यू क्रिकेट स्टेडियम का दौरा
रबल टीएमटी हिमाचल फुटबॉल लीग, हिमाचल एफसी और टेक्ट्रो स्वाड्स में होगा फाइनल मुकाबला
हार्दिक पंड्या-केएल राहुल पर लगा बैन हटा 1956 के ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट रघबीर सिंह भोला नही रहे विराट कोहली का खास संयोग से बना 15 जनवरी से शतक कनेक्शन हार्दिक पंड्या- केएल राहुल की जगह विजय शंकर और शुभमन गिल को वनडे टीम में मौका महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी में फंसे पंड्या ने BCCI से मांगी माफी ऑस्ट्रेलिया में कुलदीप ने 64 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी की, वॉर्न ने दी शाबाशी IND vs AUS: ऋषभ पंत ने बताया- मैदान पर छींटाकशी से उनको क्या मिलता है फिर राजनीति में उतरेंगे बाइचुंग भूटिया, पार्टी लड़ेगी विधानसभा चुनाव