Saturday, May 18, 2024
Follow us on
 
BREAKING NEWS
राज्य सरकार पंचकूला में पत्रकारिता विश्वविधालय स्थापित करने पर गंभीरता से करेगी विचार-विधानसभा अध्यक्ष*भाजपा पंचकूला ने अल्पसंख्यक मोर्चा के 4 मंडल अध्यक्षों की घोषणा कीजन सरोकार दिवस’ रैली को ऐतिहासिक बनाने के लिए कार्यकर्ता दिन रात एक कर दे - अजय सिंह चौटालानिर्यातक के घर के सामने जमकर प्रदर्शन किया और हर रोज धरना देने का फैसला लिया। कहां की है घटना पढ़िए पूरी खबरअभय सिंह की जीत के बावजूद किसान की करारी हार-- ऐलनाबाद उपचुनाव परिणाम की समीक्षा --- पढ़िए पूरा विश्लेषणमल्टीस्पेशलिटी चेकअप कैंप में 270 लोगों की जांच, 20 आपरेशनविधानसभा अध्यक्ष ने किया अमरटेक्स, इंडस्ट्रियल एरिया फेस-1 में फैक्ट्रियों के मालिकों व श्रमिकों/कर्मचारियों के लिये मैगा कोविशिल्ड वैक्सीनेशन कैंप का उद्घाटन।पेड़-पौधे लगाकर हम धरती माता का श्रृंगार कर सकते हैं: श्रवण गर्ग
 
 
 
Sports

फीफा वर्ल्‍ड कप 2018 : बार्सिलोना के सहयोग से मेस्‍सी बने विश्‍वप्रसिद्ध फुटबॅालर

May 30, 2018 09:45 AM

नई दिल्‍ली, 30 मई ( इंद्रा गुप्ता ) : अर्जेंटीना के विश्‍व प्रसिद्ध दिग्‍गज फुटबॅाल खिलाड़ी लियोनल आंद्रेस मेस्‍सी के जीवन में स्‍पेन के बार्सिलोना फुटबॅाल क्‍लब का क्‍या महत्‍व है, आज हम आपको बताएंगे । साथ ही हम आपको ये भी बताएंगे कि मेस्‍सी के जीवन में अगर बार्सिलोना क्‍लब का सहयोग नहीं मिलता तो आज मेस्‍सी विश्‍व के इतने बड़े दिग्‍गज फुटबॅालर नहीं बन पाते ।
विश्‍व प्रसिद्ध फुटबॅाल खिलाड़ी लियोनेल आंद्रेस मेस्सी का सम्‍पूर्ण जीवन संघर्षों से भरा हुआ है। मात्र 11 साल की उम्र  में ही मेस्‍सी ग्रोथ हार्मोन की कमी नामक बीमारी से ग्रसित हो गए थे । इस बीमारी के वजह से समस्‍त शरीर का विकास थम जाता है, लेकिन बार्सिलोना क्‍लब के सहयोग ने न केवल मेस्‍सी  के बीमारी को रोका बल्कि मेस्‍सी को फुटबॅाल के एक विश्‍व प्रसिद्ध खिलाड़ी के रूप में दुनिया के सामने पेश भी किया ।

अर्जेंटीना से स्‍पेन
मेस्‍सी का जन्‍म 24 जून 1987 में अर्जेंटीना के रोसारिया शहर में हुआ। मात्र चार साल  की उम्र में ही मेस्‍सी ने फुटबॅाल  खेलना शुरू कर दिया था। इनके पिता एक स्‍टीव कंपनी में मैनेजर पद पर थे, लेकिन मेस्‍सी 11 साल की उम्र में ग्रोथ हार्मोन की कमी नामक बीमारी से ग्रसित हो गए। इलाज  का खर्च इतना ज्‍यादा था कि मेस्‍सी के माता-पिता वहन करने में असमर्थ थे। इसी बीच, स्‍पेन में रह रहे मेस्‍सी के रिश्‍तेदारों ने उन्‍हें  बार्सिलोना फुटबॅाल क्‍लब मे जाने की सलाह दी। क्‍लब में जाने के लिए सभी प्रक्रियाओं को पुरा करने के बाद और मेस्‍सी के फुटबॅाल के प्रति लगन को देखते हुए क्‍लब के डायरेक्‍टर कर्टली ने अनुबंध पर  साइन  करा लिया । इसके बाद मेस्‍सी की बीमारी का पूरा खर्च क्‍लब ने वहन किया ।

रिकार्ड सारणी
5 बार यूरोपियन गोल्‍ड शू सर्वाधिक पुरस्‍कार मेस्‍सी के नाम
5 बार बेलांन डिआर अवार्ड  सर्वाधिक मेस्‍सी के खाते में
32 ट्रॅाफ‍ी मेस्‍सी ने अपने बार्सिलोना क्‍लब के लिए जीते
61 देशों के लिए मेस्‍सी ने दागे कुल 383 गोल

वर्ल्‍ड कप का मलाल

मेस्‍सी के नाम बहुत सारे रिकार्ड दर्ज है लेकिन  आज तक अपने देश एवं अपनी टीम के लिए वर्ल्‍ड कप नहीं जीत पाने का उन्हें मलाल  है। हम आपको बता दे कि  मेस्‍सी ने अर्जेंटीना के लिए पहला अंतरराष्‍ट्रीय मैच अगस्‍त 2005 में खेला था । मेस्‍सी के नेतृत्‍व में अर्जेंटीना की फुटबॅाल टीम फीफा वर्ल्‍ड कप 2014 के फाइनल में पहुंच चुकी थी, लेकिन जर्मनी के सामने इनकी टीम कमजोर हो गई और अंत में इन्‍हें हार का मुंह देखना  पड़ा ।

Have something to say? Post your comment
 
More Sports News
बीसीसीआई सचिव जय शाह ने किया न्यू चंडीगढ़ में पीसीए के न्यू क्रिकेट स्टेडियम का दौरा
रबल टीएमटी हिमाचल फुटबॉल लीग, हिमाचल एफसी और टेक्ट्रो स्वाड्स में होगा फाइनल मुकाबला
हार्दिक पंड्या-केएल राहुल पर लगा बैन हटा 1956 के ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट रघबीर सिंह भोला नही रहे पंड्या-राहुल के 'भविष्य' पर फैसले में होगी देरी, जानिए क्या है वजह विराट कोहली का खास संयोग से बना 15 जनवरी से शतक कनेक्शन हार्दिक पंड्या- केएल राहुल की जगह विजय शंकर और शुभमन गिल को वनडे टीम में मौका महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी में फंसे पंड्या ने BCCI से मांगी माफी ऑस्ट्रेलिया में कुलदीप ने 64 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी की, वॉर्न ने दी शाबाशी IND vs AUS: ऋषभ पंत ने बताया- मैदान पर छींटाकशी से उनको क्या मिलता है