Thursday, February 25, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर संगरूर सांसद भगवंत मान ने किसान आंदोलन को लेकर पंजाब की कांग्रेस पार्टी और शिरोमणि अकाली दल नेताओं पर तीखी टिप्पणी कीकांग्रेस सदन में किसानों के मुद्दे पर सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी - भूपेंद्र सिंह हुड्डाजजपा ने पंचकूला नगर निगम मेयर व वार्ड मेंबर्स के चुनाव के लिए कमर कसी उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने लघु सचिवालय परिसर, चिडिय़ाघर रोड़, बीपीएस रोड़ और हुडा पार्क के आसपास किया निरीक्षण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को वो कानूनी अधिकार दे रहे हैं-- रत्नलाल कटारिया कोविड-19 टीकाकरण के लिए गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स कमेटी की पहली बैठक में हुई तैयारियों की समीक्षा
 
 
 
International

मोदी-जिनपिंग साथ तो इमरान-पुतिन की कानाफूसी

June 15, 2019 10:50 PM

ऐसा कहा जाता है कि जो बात कही नहीं जा सकती, उसे सिर्फ एक तस्वीर बयां कर देती है. एक ऐसी ही तस्वीर बिश्केक में चल रहे शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) समिट से सामने आई है, जहां पर भारत की कूटनीति का असर दुनिया ने देखा. प्रचंड जीत हासिल कर पहुंचे नरेंद्र मोदी को पूरी दुनिया ने गले लगाया, लेकिन पाकिस्तान के इमरान खान को कई मुद्दों पर बैकफुट पर ही रहना पड़ा. फोटो सेशन के दौरान एक ओर जहां इमरान खान व्लादिमीर पुतिन के साथ गपशप करते दिखे तो वहीं मोदी और जिनपिंग साथ में ही दिख रहे थे.

SCO समिट के दूसरे दिन जब सभी सदस्य देशों के प्रमुख फोटो खिंचवाने के लिए साथ आए तो मंच का नजारा देखने लायक था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंक्ति की शुरुआत में खड़े थे, उनसे सिर्फ एक व्यक्ति दूर ही चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग खड़े थे. दोनों ने मंच पर जाने से पहले बात भी की और मुलाकात भी की. वहीं पाकिस्तानी पीएम इमरान खान और पीएम नरेंद्र मोदी में करीब चार देशों की दूरी थी.

 

चार देशों की दूरी इसलिए क्योंकि पीएम मोदी और इमरान खान के बीच में किर्गिस्तान, चीन और रूस समेत कुल 4 देशों के प्रमुख भी खड़े थे. फोटो सेशन के दौरान इमरान खान, व्लादिमीर पुतिन के साथ बात करते नजर आए. जीत के जोश से लबरेज नरेंद्र मोदी ने SCO बैठक में आतंकवाद के मुद्दे को उठाया और नया एजेंडा हर किसी के सामने रखा.   

चीन-रूस से भारत ने की बात...

इस फोटो सेशन से पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से द्विपक्षीय वार्ता की थी. चीन हमेशा पाकिस्तान के हक में खड़ा होता है इसलिए भारत ने भी उसी के सामने आतंकवाद का मुद्दा उठा दिया. और समझाया कि अभी पाकिस्तान के साथ बात करने वाले हालात नहीं हैं. चीन को लेकर कूटनीति इसलिए भी अहम है क्योंकि अब विदेश मंत्री एस. जयशंकर हैं जिन्हें चीन एक्सपर्ट माना जाता है.

बता दें कि कुछ समय पहले तक चीन हमेशा ही पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर के ग्लोबल आतंकी घोषित होने में अड़ंगा लगाता रहा है. लेकिन, मोदी सरकार की कूटनीति काम आई और चीन को पीछे हटना पड़ा. रूस भी कई बार पाकिस्तान के साथ जाता दिखा, चीन-पाकिस्तान की सेना ने कई बार साझा अभ्यास भी किया लेकिन मोदी और पुतिन की बॉन्डिंग ने एक बार फिर पुरानी दोस्ती को उजागर किया.

 

Have something to say? Post your comment
More International News
किस्मत हो तो ऐसी* *👉जिस लॉटरी टिकट को लेने से कर रहा था इनकार, उसी से रातोंरात बन गया करोड़पति* WHO की चेतावनी, लॉकडाउन से ढील देने में जल्दबाजी से फिर बढ़ सकता है कोरोना संक्रमण
---मैटरहॉर्न पर्वत पर एक हजार मीटर का तिरंगा बनाकर स्विट्जरलैंड ने भारत की एकजुटता की यूं तारीफ
---डोनाल्ड ट्रंप की चीन को खुली चेतावनी, संक्रमण फैलाने के परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं
---करतारपुर साहिब में तेज हवाओं से गुरुद्वारे के गुंबद क्षतिग्रस्त, इमरान सरकार पर खड़े हुए सवाल
---COVID 19: धार्मिक नेता के जनाजे में शामिल हुए 50,000 लोग, तस्लीमा नसरीन ने कहा-सरकार बेवकूफ है
ट्रंप ने ट्वीट कर किया बड़ा ऐलान, बगदादी के बाद उसका उत्तराधिकारी भी ढेर
UAE ने अंतरिक्ष में अपना पहला एस्ट्रोनॉट भेजा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- हमें प्रेरणा मिली
भूकंप से पाकिस्तान और PoK में भारी तबाही, 19 लोगों की मौत, 300 घायल
PAK को ट्रंप ने दिया झटका, इमरान के सामने कहा- भारत से रिश्ते अच्छे