Sunday, October 24, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
मल्टीस्पेशलिटी चेकअप कैंप में 270 लोगों की जांच, 20 आपरेशनविधानसभा अध्यक्ष ने किया अमरटेक्स, इंडस्ट्रियल एरिया फेस-1 में फैक्ट्रियों के मालिकों व श्रमिकों/कर्मचारियों के लिये मैगा कोविशिल्ड वैक्सीनेशन कैंप का उद्घाटन।पेड़-पौधे लगाकर हम धरती माता का श्रृंगार कर सकते हैं: श्रवण गर्गहरियाणा में येलो अलर्ट: 29 मई तक पड़ेगी तेज गर्मी, 30 और 31 मई को अंधड़ व बूंदाबांदी ।। जींद में कोरोना महामारी के बीच नगर के रेलवे रोड पर स्थित सब्जी मंडी में उमड़ रही लोगों की भीड़पंचकूला मौत का कुछ नही पता कब आ जाये ऐसा ही वाक्या देखने को मिला सेक्टर 20 पंचकूला में* गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर
 
 
 
National

पत्रकार कल्याण योजना से संबंधित दिशा-निर्देशों की समीक्षा के लिए एक समिति गठित की*

October 01, 2021 01:52 PM

*सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने पत्रकार कल्याण योजना से संबंधित दिशा-निर्देशों की समीक्षा के लिए एक समिति गठित की*

 

*यह समिति दो महीने में अपनी रिपोर्ट देगी*

 

सूचना और प्रसारण मंत्रालय की पत्रकार कल्याण योजना के मौजूदा दिशा-निर्देशों की समीक्षा और उनमें उपयुक्त बदलावों की सिफारिशें करने के लिए सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने प्रसिद्ध पत्रकार और प्रसार भारती के सदस्य अशोक कुमार टंडन की अध्यक्षता में एक दस-सदस्यीय समिति का गठन किया है। *मंत्रालय के इस निर्णय को मीडिया के इको स्पेस में हुए कई बदलावों, जिसमें कोविड-19 के कारण बड़ी संख्या में पत्रकारों की मृत्‍यु हो गई थी और “श्रमजीवी पत्रकार” की परिभाषा का व्यापक आधार होना शामिल है, के आलोक में महत्वपूर्ण माना जा रहा है।*

 

पत्रकार कल्याण योजना, जोकि पिछले कई वर्षों से अस्तित्व में है, को इस देश के पत्रकारों के हित में भविष्य की दृष्टि से लाभकारी बनाने और उसके कवरेज को व्यापक आधार देने की जरूरत है। ऑक्यूपेशनल, सेफ्टी, हेल्थ और वर्किंग कंडीशन कोड 2020 के अधिनियमन के साथ पारंपरिक और डिजिटल मीडिया, दोनों, में काम करने वाले पत्रकारों को इसके दायरे में शामिल करने के लिए श्रमजीवी पत्रकार की परिभाषा को व्यापक बनाया गया है। इसके अलावा, इस योजना के तहत कल्याण और लाभ प्राप्त करने की दृष्टि से मान्यता प्राप्त और गैर-मान्यता प्राप्त पत्रकारों के बीच संभावित समानता को भी जरूरी समझा गया।

 

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने हाल के दिनों में उन पत्रकारों के परिवारों को अनुग्रह राशि देने के लिए सक्रिय कदम उठाए हैं, जिनकी दुर्भाग्य से कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई। मंत्रालय द्वारा 100 से अधिक मामलों में प्रत्येक परिवार को पांच लाख रुपये की सहायता दी गई है।

 

समिति द्वारा दो महीने के भीतर समयबद्ध तरीके से अपनी रिपोर्ट दिए जाने की उम्मीद है। इसकी सिफारिशों से सरकार को पत्रकारों के लाभ के लिए नए सिरे से दिशा-निर्देश तैयार करने में मदद मिलेगी। अशोक कुमार टंडन की अध्यक्षता वाली इस समिति में द वीक के स्थानीय संपादक सच्चिदानंद मूर्ति, स्वतंत्र पत्रकार शेखर अय्यर, न्यूज 18 के अमिताभ सिन्हा, बिजनेस लाइन के शिशिर कुमार सिन्हा, जी न्यूज के विशेष संवाददाता रविंदर कुमार, पांचजन्य के संपादक हितेश शंकर, हिंदुस्तान टाइम्स की सुश्री स्मृति काक रामचंद्रन, टाइम्स नाउ के अमित कुमार, इकोनॉमिक टाइम्स की सुश्री वसुधा वेणुगोपाल और पत्र सूचना कार्यालय में एडिशनल डीजी श्रीमती कंचन प्रसाद शामिल हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More National News
PM के तोहफों का ई-ऑक्शन नीरज चोपड़ा का भाला डेढ़ करोड़ में बिका और किस-किस खिलाड़ी का कितने में बिका पढ़े पूरी खबर
7 से 17 अक्टूबर तक महाराजा अग्रसेन जयंती उत्सव पंचकूला में मनाया जाएगा। अमित जिंदल
कल से इनके घर का कुत्ता भी बाहर नहीं निकलने देंगे', हरियाणा के BJP-JJP नेताओं को खुली चेतावनी किसने दी चुनौती बड़ी खबर दिल्ली- शराब शौकीनों के लिए बड़ा झटका: 1अक्टूबर से डेढ़ महीने तक बंद रहेगी शराब की दुकानें* पंजाब की राजनीति में आखिरी दांव खेलेंगे अमरिंदर सिंह* यह योजना लागू करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य ऐसी कौन सी योजना है पढ़िए पूरी खबर
गगनदीप सिंह कपूर बने आप के जिला संघठन मंत्री|
डीसीपी पंचकूला नें HSSC व HPSC परिक्षा के सम्बन्ध कानून एव व्यव्स्था हेतु ली मींटिग । -- HSSC व HPSC परिक्षा के सम्बन्ध में परिक्षा केन्द्रो पर कियें कडें सुरक्षा के प्रबन्ध । दिल्ली-मुंबई हाइवे पर चौधरी देवीलाल की सबसे ऊंची प्रतिमा देश के युवाओं को जनकल्याण की प्रेरणा देगी - अजय सिंह चौटाला* 2014 के बाद भारत को सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में बदलने के लिए क्रांतिकारी सुधार लाए गए - केंद्रीय वित्त मंत्री