Monday, April 12, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर संगरूर सांसद भगवंत मान ने किसान आंदोलन को लेकर पंजाब की कांग्रेस पार्टी और शिरोमणि अकाली दल नेताओं पर तीखी टिप्पणी कीकांग्रेस सदन में किसानों के मुद्दे पर सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी - भूपेंद्र सिंह हुड्डाजजपा ने पंचकूला नगर निगम मेयर व वार्ड मेंबर्स के चुनाव के लिए कमर कसी उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने लघु सचिवालय परिसर, चिडिय़ाघर रोड़, बीपीएस रोड़ और हुडा पार्क के आसपास किया निरीक्षण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को वो कानूनी अधिकार दे रहे हैं-- रत्नलाल कटारिया कोविड-19 टीकाकरण के लिए गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स कमेटी की पहली बैठक में हुई तैयारियों की समीक्षा
 
 
 
Haryana

*साइबर जालसाजों पर हरियाणा पुलिस की बड़ी कार्रवाई* *निष्क्रिय खाते से 16 करोड़ रुपये धोखाधड़ी की साजिश के 3 आरोपी काबू*

April 07, 2021 06:14 PM
*साइबर जालसाजों पर हरियाणा पुलिस की बड़ी कार्रवाई* 
 *निष्क्रिय खाते से 16 करोड़ रुपये धोखाधड़ी की साजिश के 3 आरोपी काबू* 
 
चंडीगढ़, 7 अप्रैल - सत्यनारायण गुप्ता- हरियाणा पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए जींद जिले से तीन शातिर लोगों को गिरफ्तार किया है, जो आईसीआईसीआई बैंक की कानपुर स्थित शाखा के निष्क्रिय (डोरमेंट) बैंक खाते की जानकारी का उपयोग कर 16 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी करने की साजिश रच रहे हैं।
          हरियाणा के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), श्री मनोज यादव ने आज यहां इस संबंध में खुलासा करते हुए बताया कि इन साइबर अपराधियों के गिरोह का पर्दाफाश तब हुआ जब साइबर पुलिस स्टेशन, पंचकूला की टीम को गुप्त सूचना मिली कि कुछ लोग निष्क्रिय खाते से 16 करोड़ रुपये ट्रांसफर करने का प्रयास कर धोखाधड़ी को अंजाम दे रहे हैं।
  उन्होंने कहा इस संबंध में गुप्त सूचना मिलने पर हमारी साइबर टीम तुरंत कार्रवाई में जुट गई और जींद के गांव मालवी में रेड कर तुरंत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।
          श्री यादव ने प्रदेश में साइबर अपराधियों को बेनकाब करते हुए व्यापक और समन्वित तरीके से निपटने के लिए डीजीपी क्राइम मोहम्मद अकिल, डीआईजी साइबर क्राइम श्री पंकज नैन और उनकी समस्त टीम के कार्य की सराहना की।
ऐसे किया काबू
          प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ कि इन शातिर जालसाजों ने आईसीआईसीआई बैंक की कानपुर स्थित शाखा से करोडो की धोखाधडी की योजना बनाई थी। उन्होंने खाते से जुड़े ईमेल को एक्सेस किया और ओटीपी प्राप्त करने के लिए खाते में एक नया मोबाइल नंबर धोखाधड़ी से अपडेट करने में कामयाब रहे। जालसाजों को फंड ट्रांसफर करने के लिए 48 घंटे और चाहिए थे लेकिन इससे पहले ही उन्हें पुलिस ने काबू कर लिया। एक लाभार्थी खाता जहां फंड ट्रांसफर करने की योजना बनाई गई थी, की भी पहचान की गई है।
          चार आरोपियों में से पकड़े गए तीन की पहचान जिला जींद निवासी जगबीर और कप्तान तथा राजस्थान के झुंझुनू निवासी इमरान के रूप में हुई है।
          इस सिलसिले में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि और कौन लोग इसमें शामिल हैं। केस में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया जाना बाकी है। आगे की जांच जारी है।
Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
अब प्राइवेट स्कूल संचालक ले पाएंगे फंड व फीस हरियाणा में अपराधियों को सजा दिलवाने में पुलिस आगे*
इनेलो ने धूम-धाम से मनाई बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर की जयंती
नई पहल:पहली से 8वीं तक के विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम 16 अप्रैल को आएगा* स्कूल बंद करने के फैसले का किया विरोध:निजी स्कूल संचालक बोले- अब नहीं बंद करेंगे स्कूल, भिवानी बाेर्ड परीक्षा:कल तक प्रवेश पत्र में ठीक करवा सकते हैं गलतियां, प्रति गलती देने हाेंगे 300 रुपए, सेंटर बदलवाने के लिए भी करें आवेदन* LTC डिमांड~ एलटीसी के भुगतान से जुड़ी खबर.... महानिदेशक ने मांगी रिपोर्ट* अध्यापकों ने मिडिल स्कूल तक विद्यार्थियों को पास और फेल करने की मांगी पावर*
आपस में मिले देश-विदेश से आए दीवान एवं मोटान खानदान के लोग ऐतिहासिक दादी सती रानी स्थल पर वार्षिक समारोह आयोजित
आरपीआई ने मनाई ज्योति राव फुले व डा. भीमराव अंबेडकर जयंती