Monday, April 12, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर संगरूर सांसद भगवंत मान ने किसान आंदोलन को लेकर पंजाब की कांग्रेस पार्टी और शिरोमणि अकाली दल नेताओं पर तीखी टिप्पणी कीकांग्रेस सदन में किसानों के मुद्दे पर सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी - भूपेंद्र सिंह हुड्डाजजपा ने पंचकूला नगर निगम मेयर व वार्ड मेंबर्स के चुनाव के लिए कमर कसी उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने लघु सचिवालय परिसर, चिडिय़ाघर रोड़, बीपीएस रोड़ और हुडा पार्क के आसपास किया निरीक्षण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को वो कानूनी अधिकार दे रहे हैं-- रत्नलाल कटारिया कोविड-19 टीकाकरण के लिए गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स कमेटी की पहली बैठक में हुई तैयारियों की समीक्षा
 
 
 
Punjab

कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के दौरान अपनी जान कुर्बान करने वाले 57 किसानों की याद में पंजाब कांग्रेस ने चंडीगढ़ में पैदल मार्च किया

January 05, 2021 08:32 PM
चंडीगढ़- अग्रजन पत्रिका ब्यूरो-- 
कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के दौरान अपनी जान कुर्बान करने वाले 57 किसानों की याद में पंजाब कांग्रेस ने चंडीगढ़ में पैदल मार्च किया। कांग्रेस नेताओं ने पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ के नेतृत्व में कांग्रेस भवन से अमर जवान स्मारक चंडीगढ़ तक पैदल मार्च कर के वहां 57 बुझे हुए दीए रखे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के कारण ही इन परिवारों के 57 लोग इस दुनिया से चले गए हैं। उन्होंने कहा कि अमर जवान स्मारक देश के लिए कुर्बानी देने वाले जवानों का स्मारक है पर किसान आंदोलन में उन जवानों के अभिभावकों ने कुर्बानी दी है। यह कुर्बानी देश के बड़े हितों की रक्षा के लिए है। उन्होंने कहा कि यह स्मारक जिन जवानों की याद में बनाया गया है उन्होंने तो दुश्मन से लड़ते हुए अपनी जान न्योछावर की थी, पर जिन 57 किसानों की शहादत हुई है उनकी जान तो केंद्र सरकार की गलत नीतियों ने ली है, इसीलिए शहीद किसानों की याद में स्मारक पर दीए रखे गए हैं, ताकि केंद्र सरकार को उसकी गलती का एहसास करवाया जा सके। जाखड़ ने आशा प्रकट की कि केंद्र सरकार संघर्ष कर रहे किसानों की बात सुने व आज उनके द्वारा शहीद स्मारक पर रखे ये दीये केंद्र सरकार की अंतरात्मा को जगाएंगे। उन्होंने मांग की कि केंद्र सरकार बिना देरी अपने कृषि कानून वापस ले। जब उनसे किसानों की सरकार से बातचीत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि बातचीत की सफलता तभी संभव है अगर सरकार साफ नीयत से आगे आए। उन्होंने कहा कि सरकार की नीयत में खोट है। वह जानबूझकर मामले को लटका रही है और शायद सरकार समझती है कि किसान थककर वापस लौट जाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को यह समझ लेना चाहिए कि पंजाबी कभी भी मोर्चे से खाली हाथ नहीं लौटते, इसलिए सरकार अपनी जिद छोडे व अपने लोगों की बात सुनकर तुरंत कानून वापस ले।
 
-
Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
पंजाब अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य श्री सलिल कुमार जैन ने पंजाब के राज्यपाल श्री वी.पी. सिंह बदनोर से की भेंट
कोरोना से डूबे व्यापार को उबारने के लिए बड़ा एलान, पंजाब में 24 घंटे, सातों दिन खुलेंगी दुकानें* पंजाब का बजट आज पेश किया जा रहा है, वित्तमंत्री मनप्रीत बादल ने खजाने का मुंह खोल दिया
पिंकिश फाउंडेशन NGO ने महिलाओं व लड़कियों को मासिक धर्म स्वास्थ्य व स्वच्छता बारे किया शिक्षित
पिंकिश फाउंडेशन NGO ने महिलाओं व लड़कियों को मासिक धर्म स्वास्थ्य व स्वच्छता बारे किया शिक्षित
पंजाब सरकार द्वारा राज्य के सरकारी स्कूलों को स्मार्ट स्कूलों में तबदील किया जा रहा है
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कोरोना के बढ़ रहे मामलों को देखते हुए सख्त निर्देश जारी
पुराने स्टॉम्प बेचने वाले और जाली मोहर स्मेप पांच गिरोह के पांच मेंबर को किया गिरफ्तार* नवजोत कौर
चूजे खरीदे, नहीं दिए 20.69 लाख लुधियाना के मुर्गीपालक पर केस दर्ज चूजे खरीदे, नहीं दिए 20.69 लाख लुधियाना के मुर्गीपालक पर केस दर्ज पंजाब भाजपा प्रधान अश्वनी शर्मा बोले- लगता है सरकार के डंडा तंत्र ने चुनाव शब्द के मायने ही बदलकर रख दिए;