Saturday, January 23, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर संगरूर सांसद भगवंत मान ने किसान आंदोलन को लेकर पंजाब की कांग्रेस पार्टी और शिरोमणि अकाली दल नेताओं पर तीखी टिप्पणी कीकांग्रेस सदन में किसानों के मुद्दे पर सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी - भूपेंद्र सिंह हुड्डाजजपा ने पंचकूला नगर निगम मेयर व वार्ड मेंबर्स के चुनाव के लिए कमर कसी उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने लघु सचिवालय परिसर, चिडिय़ाघर रोड़, बीपीएस रोड़ और हुडा पार्क के आसपास किया निरीक्षण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को वो कानूनी अधिकार दे रहे हैं-- रत्नलाल कटारिया कोविड-19 टीकाकरण के लिए गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स कमेटी की पहली बैठक में हुई तैयारियों की समीक्षा
 
 
 
National

केंद्र की असंवेदनशील भाजपा सरकार कड़ाके की ठंड में देशभर से आकर दिल्ली बाॅर्डर पर बैठे हजारों किसानों से इन काले कानूनों के मुद्दे पर बात करने को तैयार नहीं है- - ’देेश के गृहमंत्री को हैदराबाद में नगर निगम चुनाव का प्रचार करने का समय है, लेकिन किसानों से बात करने का समय नहीं है।

November 30, 2020 08:44 PM
---- अग्रजन पत्रिका ब्यूरो--
’- केंद्र की असंवेदनशील भाजपा सरकार कड़ाके की ठंड में देशभर  से आकर दिल्ली बाॅर्डर पर बैठे हजारों किसानों से इन काले कानूनों के मुद्दे पर बात करने को तैयार नहीं है-
- ’देेश के गृहमंत्री को हैदराबाद में नगर निगम चुनाव का प्रचार करने का समय है, लेकिन किसानों से बात करने का समय नहीं है।
-टैक्टर चलाकर खूद किसानों से मिलें;-सुशील कुमार
-एक किसान के रूप में किसानों की समस्या सुनकर सांसद सुशील गुप्ता का दिल-भर आया;- डाॅ सुशील गुप्ता, आम आदमी पार्टी के सांसद व हरियाणा के सहप्रभारी 
नई दिल्ली, 30 नवंबर। आम आदमी पार्टी के सांसद व हरियाणा के सहप्रभारी डा सुशील गुप्ता आज हरियाणा के टिकरी बाॅर्डर पर किसान आंदोलन में शामिल होकर किसानों से खुद टैक्टृर चलाकर उनका हौसला बढाने पहुंचे। इस दौरान उनके साथ पंजाब के जैतो से विधायक बलदेव सिंह जेतो व हरियाणा में पार्टी के युवा नेता दीपक जैन, दिल्ली के पूर्व पार्षद देशराज, हरियाणा में पार्टी के मध्य जोन के अध्यक्ष अश्वनी, साहिल सहित काफी संख्या में किसान व कार्यकर्ता भी मौजूद थे। 
सांसद सुशील गुप्ता सुबह 10 बजे ही टैक्टर चलाकर टिकरी बाॅर्डर पर भारी संख्या में बैठे किसानों के बीच पहुंच चुके थे। इस दौरान वह करीबन 5 घंटे तक किसानों के बीच रहे। वह वहां लगे किसानों के टैंटों में गए तथा पंजाब, हरियाणा व राजस्थान से आए किसानों से मिलकर उनकी बातें सुनी ओर उनको मास्क व खाने का सामान भी वितरित किया। 
सुशील गुप्ता से किसानों ने शिकायत की कि देेश के गृहमंत्री अमित शाह को हैदराबाद में नगर निगम चुनाव का प्रचार करने का समय है, लेकिन देश के किसानों से बात करने का समय नहीं है। केंद्र में बैठी असंवेदनशील भाजपा सरकार कड़ाके की ठंड में देश के कोने-कोने से आकर दिल्ली बाॅर्डर पर बैठे हजारों किसानों से इन काले कानूनों के मुद्दे पर बात करने को तैयार नहीं है। किसान इस देश का अन्नदाता है।
सुशील गुप्ता ने पूरी बातचीत सुनने के उपरांत किसानों से कहा कि वह एक नेता की हैसियत से नहीं, बल्कि आंदोलन में एक किसान के रूप में शामिल हुए है। वह किसान का दर्द समझते है। उन्होंने कहा आज पूरे देश का किसान अपने घरों, गांवो और खेतों को छोड़कर दिल्ली कूच कर रहा है, क्योंकि केंद्र में बैठी भाजपा सरकार ने किसान विरोधी काले कानूनों को पास किया है। यहीं नहीं पंजाब, हरियाणा का किसान तो दिल्ली की तरफ बढ ही चला है। अब इस आंदोलन में उत्तराखंड राजस्थान, उत्तर प्रदेश का भी किसान दिल्ली की ओर चल दिया है। दिल्ली पहुंचा किसान ठंड में भी सड़क पर बैठा हुआ है, क्योंकि वह चाहता है कि देश की सरकार उसकी बात सुने। वह किसान जो इस देश का अन्नदाता है, जो देश में रहने वाले हर एक व्यक्ति को भोजन उपलब्ध कराता है, आज जब उसके खुद के पेट पर ऐसे काले कानून बनाकर लात मारने का काम केंद्र सरकार कर रही है, तो वह सड़क पर निकलकर सरकार से मांग कर रहा है कि केंद्र में बैठी भाजपा सरकार उसकी बात सुने। लेकिन बड़े अफसोस की बात है कि आज हमारे देश में एक ऐसी असंवेदनशील सरकार है जो कि लाखों की संख्या में सड़क पर बैठे हुए इन किसानों की बात सुनने को तैयार नहीं है।
सुशील गुप्ता ने देश के गृहमंत्री अमित शाह पर तंज  कसते हुए कहा कि गृहमंत्री अमित शाह किसानों से बात करने को तैयार है, मगर समय नहीं बताते, यह छलावा नहीं तो क्या है।
उन्होंने कहा कि अमित शाह खूद आकर देखें कि आंदोलन मंे किसानों के परिवार से बूढ़ी-बुजुर्ग महिलाएं अपना घर परिवार, अपना गांव, सब छोड़कर दिल्ली आई हैं, सिर्फ इसलिए ताकि केंद्र में बैठी सरकार उनकी बात सुने। इस देश का अन्नदाता दिल्ली की ठिठुरती ठंड में सड़कों पर बैठकर गृहमंत्री और केंद्र सरकार की तरफ से बातचीत का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन कोई उनसे  मिलने नहीं आता केवल हवा में बातें करते है कि केन्द्र सरकार उनसे मिलने को तैयार है।
उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पहले ही दिन से  कह रहें है कि किसानों से बात की जानी चाहिए। लेकिन केन्द्र सरकार किसानों से टकराव पर उतारू है, ऐसे में समस्या का हल कैसे निकलेगा। उन्होंने किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन पर चर्चा के लिए जल्द से जल्द केन्द्र सरकार को पहल करने का अनुरोध भी किया।
प्रेस सचिव
विजय कुमार
9312188144 
--------------------------
 
 
Have something to say? Post your comment
More National News
केन्द्रीय जल शक्ति राज्य मंत्री श्री रतन लाल कटारिया द्वारा मंत्रालय के अंतर्गत केन्द्रीय जल आयोग की समीक्षा बैठक
किसानों से बातचीत में झुकी सरकार कृषि कानूनों को 2 साल के लिए रोकने को राजी हुआ केंद्र,लेकिन किसान कानून वापसी पर अड़े एक्शन मोड में आए मुख्यमंत्री मनोहर लाल मुख्यमंत्री खुद कमान संभाल लगातार दिल्ली दरबार में दे रहे दस्तक हरियाणा में करनाल से यमुनानगर रेल लाईन परियोजना के निर्माण को रेल मंत्रालय ने सैद्धान्तिक स्वीकृति प्रदान कर दी
70 साल की महिला के लीवर से निकाली गई प्लास्टिक टी-ट्यूब
एफएआईएफए ने प्रधानमंत्री से सीओटीपीए कानून में प्रस्तावित संशोधनों को वापस लेने की अपील की ऑनलाइन कोरोना वैक्‍सीन बेचने वालों से सावधान ! 1 साल में ग्रामीण क्षेत्रों में 3.04 करोड़ नए नल के घरेलू कनेक्शन दिए गए। राज्य मंत्री श्री रतन लाल कटारिया
अडॉप्शन सेरेमनी में मेयर कुलभूषण गोयल और मानद महासचिव कृष्ण ढुल ने दंपति को बच्चा दिया गो
द्रीय जल शक्ति और सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया बुधवार को अरूणाचल प्रदेश के पासीघाट शहर में ब्रह्मपुत्र आमंत्रण अभियान के राफ्टिंग कार्यक्रम में शामिल हुए।