Saturday, January 16, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर संगरूर सांसद भगवंत मान ने किसान आंदोलन को लेकर पंजाब की कांग्रेस पार्टी और शिरोमणि अकाली दल नेताओं पर तीखी टिप्पणी कीकांग्रेस सदन में किसानों के मुद्दे पर सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी - भूपेंद्र सिंह हुड्डाजजपा ने पंचकूला नगर निगम मेयर व वार्ड मेंबर्स के चुनाव के लिए कमर कसी उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने लघु सचिवालय परिसर, चिडिय़ाघर रोड़, बीपीएस रोड़ और हुडा पार्क के आसपास किया निरीक्षण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को वो कानूनी अधिकार दे रहे हैं-- रत्नलाल कटारिया कोविड-19 टीकाकरण के लिए गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स कमेटी की पहली बैठक में हुई तैयारियों की समीक्षा
 
 
 
National

दिल्ली स्थित संस्कृत विश्वविद्यालय मंे कुलपति नियुक्ति के विज्ञापन में भ्रष्टाचार। -शिक्षा मंत्रालय की बजाए विश्वविद्यालय ने मांगे आवेदन। -सांसद सुशील गुप्ता ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र

November 04, 2020 07:45 PM
-दिल्ली स्थित संस्कृत विश्वविद्यालय मंे कुलपति नियुक्ति के विज्ञापन में भ्रष्टाचार।
-शिक्षा मंत्रालय की बजाए विश्वविद्यालय ने मांगे आवेदन।
-सांसद सुशील गुप्ता ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र।
नई दिल्ली, 4 अक्टूबर।-- अग्रजन पत्रिका ब्यूरो-- आम आदमी पार्टी के सांसद सुशील गुप्ता ने दिल्ली स्थित संस्कृत विश्वविद्यालय मंे कुलपति नियुक्ति के विज्ञापन में भ्रष्टाचार के सन्दर्म में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा है। 
सांसद सुशील गुप्ता ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में बताया है कि दिल्ली स्थित संस्कृत विश्वविद्यालय कटवारिया सराय व जनकपुरी में कुलपति नियुक्ति को लेकर विज्ञापन  निकाला है। यह विज्ञापन उक्त दोनों ही विश्वविद्यालय  द्वारा अपने-अपने ईमेल व पते पर मांगे गए है। विज्ञापन में मानव संसाधन विकास मंत्रालय के लेटर हेड का भी प्रयोग किया गया है। यहीं नहीं विज्ञापन में आवदेको से आवेदन विश्वविद्यालय के कुलसचिव के ईमेल एवं पते पर मांगा गया है। दूसरा सभी आवेदनों की स्क्रीनिंगं आदि का कार्य भी दोनों ही विश्वविद्यालयों द्वारा ही किया गया है। 
पत्र मंे सांसद सुशील कुमार ने लिखा है कि सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की नियुथ्कत का विज्ञापन एंव नियुक्त् िसंबंधित अन्य प्रक्रियाएं शिक्षा मंत्रालय द्वारा की जाती रही है,तथा आवेदकों से फार्म भी शिक्षा मंत्रालय के पते व ईमेल पर ही मांगा जाता है। यह ज्ञापन 10 नवंबर 2019 से 20 सितंबर 2020 तक के सभी 19 केन्द्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियो की नियुक्ति का विज्ञापन मंत्रालय द्वारा  किया जाता है,जो वर्तमान में भी उपलब्ध है। 
उन्हांेने प्रधानमंत्री से अनुरोध किया है कि विज्ञापन को निरस्त कर पुन; विज्ञपित करने का आदेश दे, तथा शिक्षा मंत्रालय को आदेश दे कि दोनों विश्वविद्यालयों के कुलपतियों तथा कुलसचिव को तत्काल प्रभाव से पदमुक्त कर कुलपतियों की नियुक्ति के लिए अपनायी गई इस प्रक्रिया की निष्पक्ष जांच कर, संस्कृत के विद्वानों के साथ न्याय किया जाए।
प्रेस सचिव
विजय कुमार
9971277703,9312188144
 
 
 
 
Have something to say? Post your comment
More National News
एफएआईएफए ने प्रधानमंत्री से सीओटीपीए कानून में प्रस्तावित संशोधनों को वापस लेने की अपील की ऑनलाइन कोरोना वैक्‍सीन बेचने वालों से सावधान ! 1 साल में ग्रामीण क्षेत्रों में 3.04 करोड़ नए नल के घरेलू कनेक्शन दिए गए। राज्य मंत्री श्री रतन लाल कटारिया
अडॉप्शन सेरेमनी में मेयर कुलभूषण गोयल और मानद महासचिव कृष्ण ढुल ने दंपति को बच्चा दिया गो
द्रीय जल शक्ति और सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया बुधवार को अरूणाचल प्रदेश के पासीघाट शहर में ब्रह्मपुत्र आमंत्रण अभियान के राफ्टिंग कार्यक्रम में शामिल हुए।
जब तक मोदी प्रधानमंत्री कोई कंपनी किसानों से उनकी जमीन नहीं छीन सकती : अमित शाह
पत्रकार, बुद्धिजीवी व समाजसेवी चौधरी देवीलाल अवार्ड से हुए सम्मानित* *- मुख्य अतिथि उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने दिल्ली स्थित ली मेरिडियन होटल में किया सम्मानित* किसान आंदोलन : सुप्रीम कोर्ट में टली सुनवाई* हरियाणा सरकार ने पहली अप्रैल से 30 जून, 2020 तक की अवधि के लिए हरियाणा रोडवेज के बस अड्डों पर स्थित दुकानों का पूरा किराया माफ करने का निर्णय लिया वर्ष 2016 से लडाई-झगडा के मामलें में फरार फगौडा को पचंकूला पुलिस ने गिरफ्तार करके भेजा जेल ।