Thursday, July 29, 2021
Follow us on
 
BREAKING NEWS
विधानसभा अध्यक्ष ने किया अमरटेक्स, इंडस्ट्रियल एरिया फेस-1 में फैक्ट्रियों के मालिकों व श्रमिकों/कर्मचारियों के लिये मैगा कोविशिल्ड वैक्सीनेशन कैंप का उद्घाटन।पेड़-पौधे लगाकर हम धरती माता का श्रृंगार कर सकते हैं: श्रवण गर्गहरियाणा में येलो अलर्ट: 29 मई तक पड़ेगी तेज गर्मी, 30 और 31 मई को अंधड़ व बूंदाबांदी ।। जींद में कोरोना महामारी के बीच नगर के रेलवे रोड पर स्थित सब्जी मंडी में उमड़ रही लोगों की भीड़पंचकूला मौत का कुछ नही पता कब आ जाये ऐसा ही वाक्या देखने को मिला सेक्टर 20 पंचकूला में* गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार लूटने वालें आरोपियो को भेजा जेल क्राईंम ब्राचं पचंकूला ने भैसं चोर को लिया पुलिस रिमाण्ड पर संगरूर सांसद भगवंत मान ने किसान आंदोलन को लेकर पंजाब की कांग्रेस पार्टी और शिरोमणि अकाली दल नेताओं पर तीखी टिप्पणी की
 
 
 
National

बिहार चुनाव : पीएम मोदी ने विपक्ष को जमकर सुनाई खरी-खोटी, कहा- इन्होंने बिहार को सिर्फ लूटा-खसोटा है।*

October 23, 2020 09:40 PM
*बिहार चुनाव : पीएम मोदी ने विपक्ष को जमकर सुनाई खरी-खोटी, कहा- इन्होंने बिहार को सिर्फ लूटा-खसोटा है।* 
 
23 अक्टूबर 2020
 
पटना।- अग्रजन पत्रिका---  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सासाराम में बिहार चुनाव की अपनी पहली जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा, आपने इन्हें भरोसे के साथ सत्ता सौंपी थी, लेकिन उन्होंने इसे कमाई का जरिया बना लिया। जब सत्ता से बेदखल किया, तो उनके अंदर जहर भर गया। 10 साल तक यूपीए की सरकार में रहते हुए बिहार पर गुस्सा निकाला। मोदी बोले, ये लोग बिहार की हर योजना को लटकाने और भटकाने वाले हैं।
 
15 साल तक अपने शासन के दौरान इन्होंने बिहार को लूटा-खसोटा है। साथियों, बिहार के लोग कभी कन्फ्यूजन में नहीं होते। चुनाव के इतने दिन पहले ही उन्होंने अपना स्पष्ट संदेश हो रहे हैं। जितनी रिपोर्ट आ रही हैं, सब में यही आ रहा है कि बिहार में फिर एक बार एनडीए सरकार बनने जा रही है।
 
 *मोदी के भाषण की प्रमुख बातें* 
 
कोरोना से बचने के लिए जिस तरह यहां सरकार ने काम किया, उसके नतीजे आज दिख रहे हैं। दुनिया के अमीर देशों की हालत किसी से छिपी नहीं है। अगर बिहार में तेजी से काम नहीं हुआ होता तो महामारी हमारे कितने लोगों की जान ले लेती। कितना हाहाकार मचता, इसकी कोई कल्पना नहीं कर सकता। लेकिन, बिहार सारी सावधानियों का पालन करते हुए लोकतंत्र का पर्व मना रहा है।
 
चुनाव में कुछ लोग भ्रम फैलाने के लिए एक-दो चेहरों को बड़ा दिखाने लग जाते हैं। कुछ लोगों के उभरने की बातें फैलाई जाती हैं, लेकिन इससे वोटिंग पर फर्क नहीं पड़ता। बिहार के लोगों ने मन बना लिया है कि जिनका इतिहास बिहार को बीमार को बीमारू बनाने का है, उन्हें आसपास भी फटकने नहीं देंगे।
 
देश की सुरक्षा हो, बिहार के लोग सबसे आगे रहलन। पुलवामा हमले में बिहार के जवान शहीद हुए, मैं उनके चरणों में शीश नवाता हूं। बिहार तेजी से आगे बढ़ रहा है। अब राज्य को कोई बीमारू नहीं कह सकता। अंधेरे से उजाले की ओर बढ़ना इसी को कहते हैं। कभी सूरज डूबने का मतलब होता था, दिन की हर गतिविधि खत्म हो जाना। अब सड़कें हैं, बिजली है।
 
ह्यवो दिन घर की बिटिया घर से निकलती थी, वो जब तक लौटकर न आए, माता-पिता की सांस अटकी रहती थी। वो लोग जिन्होंने एक-एक नौकरी को लाखों-करोड़ों कमाने का जरिया माना, वे फिर ललचाई नजरों से देख रहे हैं। हमें याद रखना है कि बिहार को इतनी मुश्किलों में डालने वाले कौन थे। 2014 में केंद्र में सरकार बनने के बाद बिहार को डबल इंजन की ताकत मिली, राज्य में ज्यादा तेजी से काम हुआ है।
 
कोरोना के दौरान करोड़ों गरीब बहनों के खाते में करोड़ों की मदद भेजी, कई गैस कनेक्शन दिए गए। देश जहां संकट का समाधान करते हुए आगे बढ़ रहा है, ये लोग हर संकल्प के सामने रोड़ा बनकर खड़े हैं। देश को बिचौलियों-दलालों से मुक्त कराने का फैसला लिया, ये लोग उन्हीं के पक्ष में खड़े हैं। किसान तो बहाना है, उनके लिए तो बिचौलियों-दलालों को बचाना है।
 
राफेल के लिए भी ये लोग बिचौलिए-दलाल की भाषा बोल रहे थे। इनके लिए देशहित नहीं, दलालों का हित ज्यादा महत्वपूर्ण है। जब बिचौलियों-दलालों पर चोट होती है, तब-तब ये लोग बौखला जाते हैं। ये लोग देश को कमजोर कर रहे लोगों का साथ देने से भी चूकते।
 
ये लोग कह रहे हैं कि सत्ता में आए तो आर्टिकल 370 फिर लागू कर देंगे। इतना सब कहकर ये बिहार के लोगों से वोट मांगने की हिम्मत कर रहे हैं। क्या के बिहार के लोगों का अपमान नहीं है। ये लोग जिसकी चाहे मदद ले लें, देश अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा।
 
बिहार की हर योजना को ये लोग लटकाने और भटकाने वाले हैं। 15 साल तक अपने शासन के दौरान इन्होंने बिहार को लूटा-खसोटा। आपने इन्हें भरोसे के साथ सत्ता सौंपी थी, लेकिन उन्होंने इसे कमाई का जरिया बना लिया। जब सत्ता से बेदखल किया, तो उनके अंदर जहर भर गया। 10 साल तक यूपीए की सरकार में रहते हुए बिहार पर गुस्सा निकाला।
 
तब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री हुआ करता था। नीतीश कहते थे कि दिल्ली को बिहार का अखाड़ा मत बनाइए। उनके साथ मिलकर नीतीशजी ने सरकार बनाई। सब जानते हैं कि उन 18 महीनों में क्या हुआ? नीतीश इस खेल को भांप गए कि बिहार 15 साल पीछे चला जाएगा। बिहार के विकास के लिए हम फिर नीतीशजी के साथ आए। मुझे अभी नीतीशजी के साथ काम करते हुए 4-5 साल ही हुआ है।
 
 
 *मोदी 12 दिनों में 12 रैलियां करेंगे* 
 
पहले फेज के आखिरी दौर में प्रधानमंत्री के प्रचार से NDA को काफी उम्मीद है। मोदी 12 दिनों में 12 रैलियां करेंगे। 28 अक्टूबर को दरभंगा, मुजफ्फरपुर और पटना में रैली करेंगे। प्रधानमंत्री का तीसरा दौरा एक नवंबर को छपरा, पूर्वी चंपारण और समस्तीपुर में होगा तो चौथा और अंतिम दौरा तीन नवंबर को पश्चिमी चंपारण, सहरसा और अररिया के फारबिसगंज में होगा।
 
 
 
 
Have something to say? Post your comment
 
More National News
हिसार एयरपोर्ट का नाम महाराजा अग्रेसन के नाम पर रखने पर मेयर कुलभूषण गोयल ने जताया सीएम का आभार
धुआं रहित तंबाकू का सेवन हेड नेक कैंसर का मुख्य कारण बनता जा रहा है।डा.पवन सिंघल
एकता व अखंडता के लिये अपने प्राण न्यौछावर करने वाले बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि दी जाती है। गुप्ता
एकता व अखंडता के लिये अपने प्राण न्यौछावर करने वाले बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि दी जाती है। गुप्ता
गृह मंत्री अनिल विज ने महिला रेसलर प्रिया मलिक को वर्ल्ड कैडेट कुश्ती प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतने पर दी बधाई*
मुख्यमंत्री ने वेटलिफ्टर मीराबाई चानू को टोक्यो ओलंपिक में रजत पदक जीतने पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं दिल्ली के मुख्यमंत्री की अर्जी क्यों की खारीज सुप्रीम कोर्ट ने क्या था मामला पढ़िए
जनता दल (यू) के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने गुरुग्राम निवास पर इनेलो सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला से की मुलाकात
अंतर्राष्ट्रीय चोर गिरोह को पकड़ने में कहां मिली कामयाबी पुलिस को पढ़िए पूरी खबर
हरियाणा के राज्यपाल ने राष्ट्रपति से क्यों की मुलाकात पढ़ें पूरी खबर..