Friday, December 04, 2020
Follow us on
 
BREAKING NEWS
मनीमाजरा पुलिस ने करोना जागरूकता के लिए की मार्किट एसोसिएशन के साथ मीटिंग पंचकूला की मार्किटों से दुकानों के बाहर बरामदों मे से सभी प्रकार के अतिक्रमण हटाने को लिखा गन प्वांइट पर फॉर्च्यूनर कार की लूट के मामले में आरोपियो को क्राईम ब्रांच पचंकूला ने किया काबूलोगों को स्वच्छता रखने की दिलाई गई शपथ हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र हुड्डा ने पूर्व कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल के भाई की श्रद्धांजलि सभा में पहुंच पुष्पांजलि अर्पित की कृषि मंत्री की बजाए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह को किसान नेताओं से बातचीत करके समस्या का तुरंत हल करना चाहिए - राहुल गर्ग पचकूला में 20 की 20 सीटों पर जीत हांसिल कर एक नया इतिहास बनायेंगे : कैप्टन अभिमन्यु भगवान श्री विश्वकर्मा नमन समारोह का आयोजन
 
 
 
National

समुद्र के नीचे से ऑप्टिकल फाइबर केबल से जोड़े गए चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर, पीएम मोदी ने किया उद्घाटन*

August 10, 2020 10:01 PM
नई दिल्ली |  दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर को जोड़ने वाली पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी) का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। यहां पीएम मोदी ने कहा कि अंडमान निकोबार के लोगों को केबल नेटवर्क के जरिये देश के सभी नागरिकों की तरह ऑनलइन शिक्षा, बेहतर इंटरनेट समेत सभी डिजिटल लाभ मिलेंगे।अंडमान निकोबार द्वीप समूह के सभी द्वीपों में बेहतर संपर्क सुविधा समेत बुनियादी ढांचे को मजबूत करने का काम जारी है।आने वाले समय में अंडमान निकोबार बंदरगाह से जुड़ी गतिविधियों के विकास के केंद्र के रूप में विकसित होने वाला है, अंडमान निकोबार दुनिया के कई बंदरगाहों से प्रतिस्पर्धी रूप से करीब स्थित है। अंडमान निकोबार में आज जितनी भी आधुनिक ढांचागत सुविधायें तैयार हो रही हैं, वो समुद्री क्षेत्र से जुड़ी अर्थव्यवस्था को भी गति देगें।
पनडुब्बी ओएफसी लिंक चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर के बीच 2x200 गीगाबिट्स प्रति सेकंड (Gbps) और पोर्ट ब्लेयर और अन्य द्वीपों के बीच 2x100 Gbps की बैंडविड्थ वितरित करेगी। इन द्वीपों में विश्वसनीय, मजबूत और हाई स्पीड दूरसंचार और ब्रॉडबैंड सुविधाओं का प्रावधान उपभोक्ताओं के दृष्टिकोण के साथ-साथ रणनीतिक और शासन कारणों से एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी। दूरसंचार और ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी से द्वीपों में पर्यटन और रोजगार सृजन को बढ़ावा मिलेगा, अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी और जीवन स्तर में वृद्धि होगी। 
पीएमओ की प्रेस विज्ञिप्ति के अनुसार- बेहतर कनेक्टिविटी से ई-गवर्नेंस सेवाओं जैसे टेलीमेडिसिन और टेली-एजुकेशन की सुपुर्दगी में भी मदद मिलेगी, ई-कॉमर्स में अवसरों से छोटे उद्यमों को फायदा होगा, जबकि शिक्षण संस्थान ई-लर्निंग और नॉलेज शेयरिंग के लिए बैंडविड्थ की बढ़ी उपलब्धता का उपयोग करेंगे। ।2300 किलोमीटर की इस सबमरीन ओएफसी को बिछाने में 1224 करोड़ रुपये लगे हैं। इससे इंटरनेट की  400 GBPS स्पीड मिलेगी।
 
 
 
 
Have something to say? Post your comment
More National News
केन्द्र के तीन नए कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन पांचवें दिन सोमवार को भी जारी है। प्रदर्शनकारियों ने आज राष्ट्रीय राजधानी को जाने वाले पांच मार्गो को जाम करने की चेतावनी दी
केंद्र की असंवेदनशील भाजपा सरकार कड़ाके की ठंड में देशभर से आकर दिल्ली बाॅर्डर पर बैठे हजारों किसानों से इन काले कानूनों के मुद्दे पर बात करने को तैयार नहीं है- - ’देेश के गृहमंत्री को हैदराबाद में नगर निगम चुनाव का प्रचार करने का समय है, लेकिन किसानों से बात करने का समय नहीं है।
काफी विचार विमर्श के बाद भारत की संसद ने कृषि सुधारों को कानूनी स्वरूप दिया। इन सुधारों से न सिर्फ किसानों के अनेक बन्धन समाप्त हुए हैं, बल्कि उन्हें नए अधिकार भी मिले हैं, नए अवसर भी मिले हैं: पीएम केन्द्रीय कृषि मंत्री शीघ्र किसानों से सीधा संवाद करें। - आंलोदनकारियों से मिल एमएसपी पर अध्यादेश लाकर किसानों को विश्वास दिलाएं- सुशील गुप्ता, सांसद आम आदमी पार्टी व हरियाणा सहप्रभारी। देश की राजधानी में लॉकडाउन पर दिल्ली सरकार ने 24 घंटे में ही अपना फैसला बदल लिया है।*
हरियाणा की जंगलराज सरकार में अब घोटालों का बोल-बाला-सुशील गुप्ता सांसद, आम आदमी पार्टी एवं हरियाणा सहप्रभारी
महर्षि दयानन्द का राष्ट्रवाद पर गोष्ठी संम्पन्न महर्षि दयानंद से हजारों लोगों ने राष्ट्रवाद की प्रेरणा ली - नरेंद्र आहूजा विवेक
नीतीश कुमार ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, शाह-नड्डा सहित कई बड़े नेता भी रहे मौजूद* सुशील कुमार मोदी ही बनेंगे बिहार के डिप्टी सीएम, विधानमंडल दल की बैठक में लगेगी मुहर- सूत्र *अर्नब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट ने दी जमानत* *सुप्रीम कोर्ट - अर्णव गोस्वामी केस- मोटा मोटी बात सामने आ रही हैं।* *आज हस्तक्षेप करना जरूरी - हाई कोर्ट व निचली अदालत व्यक्ति की निजियता के नियमो का इस्तेमाल करें*